अधिसूचनाएं

आर्काइव
क्र.सं.विषयसूचना की तारीखडाउनलोड
1 दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 (अधिनियम संख्या 2 सन् 1974) की धारा- 20 के अधीन शक्तियों का प्रयोग करके राज्यकपाल नीचे अनुसूची में उल्लिखित अधिनियमों के संबंध में पुलिस आयुक्त को कार्यपालक मजिस्ट्रे ट और अपर जिला मजिस्ट्रेिट की शक्तियों तथा जिला मजिस्ट्रे ट की शक्तियां लखनऊ (नगर) और जिला गौतमबुद्व नगर में तैनात संयुक्तो पुलिस आयुक्तल, अपर पुलिस आयुक्त , उप पुलिस आयुक्तम,अपर उप पुलिस आयुक्ति और सहायक पुलिस आयुक्तत को कार्यपालक मजिस्ट्रे टों की शक्तियां प्रदत्त् करने के सम्बन्ध में अधिसूचना । 13-01-2020 8-2020-55P-P6-2020-01-2020.PDF (610.18केबी)
2 दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 (अधिनियम संख्या - 02 सन् 1974) की धारा- 2 के खण्ड (ध) के उपबन्धों और इस निमित्त समर्थकारी समस्त अन्य शक्तियों के अनुसरण में, राज्यपाल यह घोषणा करती हैं कि इस अधिसूचना को गजट में प्रकाशित किये जाने के दिनांक से शासनादेश संख्या-133के/छः-सानिप्र-19-12(4)/2017 दिनांक 05 फरवरी, 2019 द्वारा गठित विशेष अनुसंधान दल (एस0आई0टी0) (1984-दंगा) कानपुर नगर कार्यालय, वह पुलिस थाना होगा, जिस पर सम्पूर्ण उत्तर प्रदेश की अधिकारिता होगी। 07-01-2020 1478P-P62019-300.pdf (259.27केबी)
3 दंड प्रक्रिया संहिता, १९७३ (अधिनियम संख्या - ०२ सं १९७४) की धारा -२१ के अधीन शक्ति का प्रयोग करके राज्यपाल महोदय, दिनांक 19-12-2019 के लिये नागरिक्ता संशोधन अधिनियम, के विरोधा में हो रहे धरना प्रदर्शन के दृष्टिगत लखनऊ जनपद में तैनात निम्नलिखित ०३ अधिकारीयों को कार्यपालक मजिस्ट्रेट नियक्त करते हैं, जो विशेष कार्यपालक मजिस्ट्रेट के रूप में ज्ञात होंगे और उकत संहिता के अधीन कार्यपालक मजिस्ट्रटों को प्रदत्त की जा सकने वाली सभी शक्तिया उन्हें प्रदान करते hain, जिनका प्रयोग वे लखनऊ जपद की सीमाओं के भीतर कर सकेंगे 01-01-2020 4183-P9-19-20.pdf (140.00केबी)
4 दंड प्रक्रिया संहिता, १९७३ (अधिनियम संख्या - ०२ सं १९७४) की धारा -२१ के अधीन शक्ति का प्रयोग करके राज्यपाल महोदय, दिनांक 19-12-2019 के लिये नागरिक्ता संशोधन अधिनियम, के विरधा में हो रहे धरना प्रदर्शन के दृष्टिगत लखनऊ जनपद में तैनात निम्नलिखित ०३ अधिकारीयों को कार्यपालक मजिस्ट्रेट नियक्त करते हैं, जो विशेष कार्यपालक मजिस्ट्रेट के रूप में ज्ञात होंगे और उकत संहिता के अधीन कार्यपालक मजिस्ट्रटों को प्रदत्त की जा सकने वाली सभी शक्तिया उन्हें प्रदान करते hain, जिनका प्रयोग वे लखनऊ जपद की सीमाओं के भीतर कर सकेंगे 18-12-2019 4170-0.PDF (216.16केबी)
5 दंड प्रक्रिया संहिता, १९७३ (अधिनियम संख्या - ०२ सं १९७४) की धारा -२१ के अधीन शक्ति का प्रयोग करके राज्यपाल महोदय, १८ फरवरी, २०२० को प्रारम्भ होने वाली और दिनांक ०6 मार्च, २०२० को समाप्त होने वाली हाई स्कूल एवं इंटरमीडीएट परीक्षा की अवधि के लिए उत्तर प्रदेश के समस्त उत्तर प्रदेश के समस्त जनपदों में तैनात निम्नलिखित अधिकारीयों को कार्यपालक मजिस्ट्रेट नियुक्त करते हैं, जो विशेष कार्यपालक मजिस्ट्रेट के रूप में ज्ञात होंगे और उकत संहिता के अधीन कार्यपालक मजिस्ट्रेट को प्रदत्त के जा सकने वाली सभी शक्तिया उन्हें प्रदान करते hai, जिनका प्रयोग वे अपने जनपद की स्थानीय सीमाओं के भीतर कर सकेंगे 18-12-2019 4092.PDF (568.08केबी)
6 दंड प्रक्रिया संहिता, १९७३ (अधिनियम संख्या - ०२ सं १९७४) की धारा -२१ के अधीन शक्ति का प्रयोग करके राज्यपाल महोदय, हाई स्कूल एवं इंटरमीडीएट की परीक्षाओं के समस्त केंद्र अधीक्षकों को जैसा की इंटरमीडीएट शिक्षा अधिनियम, १९२१ (संयुक्त प्रांत अधिनियम सं.-०२ सं १९२१ ) की धारा - २ के खंड (छ) में परिभाषित है, दिनांक १८ फरवरी, २०२० को प्रारम्भ होने वाली और दिनांक ०८ मार्च, २०२० को समाप्त होने वाली अवधि तक के लिए कार्यपालक मजिस्ट्रेट, जो विशेष कार्यपालक मजिस्ट्रेट के रूप में ज्ञात honge, नियुक्त करते हैं और उन्हें उस केंद्र की सीमा के भीतर, जिसके वे अधीक्षक हैं, किये गए अपराधों के सम्बन्ध में उकत संहिता के अधीन कार्यपालक मजिस्ट्रटों को प्रदत्त की जा सकने वाली सभी शक्तियां प्रदान करते हैं. 18-12-2019 4092-4.PDF (277.97केबी)
7 साधारण खण्ड अधिनियम, 1897 की धारा 21 के साथ पठित दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा 2 के खण्ड (ध) के उपबन्धों के अनुसरण में और इस निमित्त जारी समस्त पूर्वर्ती अधिसूचनाओं का अधिक्रमण करके राज्यपाल घोषणा करती हैं कि नीचे अनुसूची के स्तम्भ-2 में उल्लिखित स्थान, इस अधिसूचना के गजट में प्रकाशित किये जाने के दिनांक से जिला अलीगढ़ के पुलिस थाना होंगे और उनमें उक्त अनुसूची के स्तम्भ-3 मंे प्रत्येक के सम्मुख उल्लिखित राजस्व ग्रामों के क्षेत्र समाविस्ट होंगे। 10-12-2019 1268-p6-300-80-Hindi.PDF (12.87एमबी)
8 साधारण खण्ड अधिनियम, 1897 की धारा 21 के साथ पठित दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा 2 के खण्ड (ध) के उपबन्धों के अनुसरण में और इस निमित्त जारी समस्त पूर्वर्ती अधिसूचनाओं का अधिक्रमण करके राज्यपाल घोषणा करती हैं कि नीचे अनुसूची के स्तम्भ-2 में उल्लिखित स्थान, इस अधिसूचना के गजट में प्रकाशित किये जाने के दिनांक से जिला बहराइच के पुलिस थाना होंगे और उनमें उक्त अनुसूची के स्तम्भ-3 में प्रत्येक के सम्मुख उल्लिखित राजस्व ग्रामों के क्षेत्र समाविस्ट होंगे। 15-11-2019 1307-p6-2019-2018_Hindi.PDF (7.25एमबी)
9 साधारण खण्ड अधिनियम, 1897, की धारा 21 के साथ पठित दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा 2 के खण्ड (ध) के उपबन्धों के अनुसरण में और अधिसूचना संख्या-1815पी/छः-पु0-6-2015-300(65)/2015 दिनांक 05 नवम्बर, 2015 का अधिक्रमण करके राज्यपाल घोषणा करती है कि नीचे अनुसूची के स्तम्भ 2 में उल्लिखित स्थान, इस अधिसूचना के गजट में प्रकाशित किये जाने के दिनांक से जिला गौतमबुद्ध नगर के पुलिस थाना होंगे और उनमें उक्त अनुसूची के स्तम्भ- 3 और 4 में प्रत्येक के सम्मुख उल्लिखित राजस्व ग्रामों के क्षेत्र समाविस्ट होंगे। 15-11-2019 1309P-P6-2019_Gautam_Budh_Nagar-Hindi.pdf (1.97एमबी)
10 साधाराण खंड अधिनियम, 1897, की धारा 21 के साथ पठित दंड प्रक्रिया संहिता , 1973 की धारा २ के खंड (घ) के उपबंधों के अनुसरण में और इस निमित्त जारी पूर्ववर्ती अधिसूचनाओं का अधिक्रमण करके राज्यपाल घोषणा करते है की निचे अनुसूची के स्तम्भ २ में उल्लिखित स्थान, इस अधिसूचना के गजट में प्रकाशित किये जाने के दिनांक से जिला अमेठी; के पुलिस थाना होंगे जिनमे उक्त अनुसूची के स्तम्भ - 3 में प्रत्येक के सम्मुख उल्लिखित राजस्व ग्रामो के क्षेत्र समाविस्ट होंगे। 15-11-2019 1305-P6-300-50-19.PDF (5.43एमबी)
Back to Top